Uncategorised

रेलवे के आरक्षण ऍप, वेबसाइट पर यात्रिओंको बेहतर मिले सुविधा

हाल ही में भारतीय रेल ने अपने संगणकीय आरक्षण टिकट बुकिंग्ज की वेबसाइट irctc.co.in और आईआरसीटीसी ऍप में व्यापक बदलाव किया।

इस बदलाव में वेबसाइट और ऐप की कम समय मे ज्यादा यात्रिओंके बुकिंग किए जाने की गति और क्षमता निस्संदेह बेहतर हुई है, मगर यात्रिओंकी रेल प्रशासन से कुछ अधिक की अपेक्षाएं थी वह पूरी नही की गई है, अपितु नया सुधारित ऐप चलाते वक्त सुविधाओंकी कमी ज्यादा महसूस होती है। किसी भी ऐप/ वेबसाईट को जब अद्यतन, अपडेट किया जाता है, तो सहज है की उसकी तुलना उसी के पुराने संस्करण से की जाए और इसी में नए ऐप की कमियाँ खलती है।

सर्वप्रथम जब स्टेशन सर्च किया जाता है, पहले ऐप में स्टेशन कोड डालते ही स्टेशन का नाम सिलेक्ट हो जाता था। नए ऐप में ऐसा नही होता। स्टेशन की स्पेलिंग के 3, 4 अक्षर डाले तभी नाम आएगा। कई बार स्टेशनोंके नाम की स्पेलिंग उसके उच्चारण से भिन्न होती है, उदाहरण के लिए मेहसाणा लीजिए। इसकी स्पेलिंग mehsana न होकर mahesana याने महेसाणा इस प्रकार है। ठीक वैसे ही बठिण्डा और भटिंडा, शिमोगा या शिवमोग्गा इस तरह है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन का कोड DDU है और पुराना नाम मुगलसराय है, लेकिन सर्च में पण्डित से शुरुवात करो तो सर्च नही होता।

दूसरा स्टेशनोंके बीच चलनेवाली गाड़ियोंकी सूची किसी तरह का कोई अनुक्रम का पालन नही करती, जो पहले पुराने ऐप में अपनेआप क्रमबद्ध आती थी। हालाँकि नए ऐप में sort by ऐसा ऑप्शन है, जिसे हर बार, हर सर्च में सिलेक्ट करना पड़ता है, डिफॉल्ट नही आता, हो सकता है इसका कोई बग हो, सुधारना बाकी हो।

आरक्षण का कोटा सिलेक्शन गाड़ियोंके साथ नही है। यदि आपने किसी दो स्टेशनोंके बीच आरक्षण उपलब्धता जानने का प्रयत्न किया तो सूची डिफॉल्ट जनरल कोटे की आएगी। कोटा बदलकर तत्काल या अन्य देखना हो तो बैक जाकर कोटा का चुनाव करना होगा, सीधे गाडीके अलग अलग कोटा आप सूचीमे नही देख सकते जो की पहले ऐप में मुमकिन था।

सबसे महत्वपूर्ण दरकार थी विविध कोटा की जानकारी की। यह बात समझने के लिए उसके विस्तार में आपको लिए चलते है। रेलवे के आरक्षण टिकटोंमे आरक्षित कोटे और उनके कोड्स अलग अलग होते है। सर्वसामान्य आरक्षण कोटे में conf, gnwl, pqwl, rlwl और rswl इस तरह कोड होते है, यह सारे आरक्षित टिकटोंके लिए समान रूपसे लागू होते है फिर वह आपका रियायती टिकट हो या महिला टिकट हो। केवल तत्काल के लिए tqwl यह अलग कोड है।

अब पहले ऐप में यात्रिओंको सूची में ही दिख जाता था की उसकी टिकट वेटिंग लिस्ट में याने wl तो है मगर किस प्रकार wl है, gnwl याने जनरल वेटिंग लिस्ट है या rlwl रिमोट लोकेशन वेटिंग लिस्ट है। अब जानकार यात्री इसका फर्क समझते है कि gnwl याने जनरल वेटिंग लिस्ट गाडीके प्रारंभिक स्टेशन से जारी की जाती है तो rlwl किसी बीच वाले स्टेशन से, तो rswl रोड साइड वेटिंग लिस्ट है। जनरल वेटिंग लिस्ट gnwl वाली वेटिंग लिस्ट में टिकट कन्फर्म होने की संभावना भरपूर होती है वही rlwl और rswl में बेहद कम। पहले वाले पुराने ऐप में वेटिंग लिस्ट कोड से पता चलने की वजह से यात्री यह प्रयत्न करता था की उसे कन्फर्म टिकट नही मिलता है तो कमसे कम जनरल वेटिंग लिस्ट का तो भी टिकट मिल जाए जो की नए सुधारित ऐप में सम्भव नही है। नए सुधारोंमें इस व्यवस्था को रेल प्रशासन ने निकाल दिया है। अब केवल wl ऐसा ही कोड सूची में दिखाई देता है।

आम यात्रिओंकी, आईआरसीटीसी के ऐप/वेबसाईटो के अपडेट आने के पहले ही ऐसी अपेक्षा थी की आरक्षण करते वक्त जब वह ट्रेन के शेड्यूल याने समयसारणी जानने के लिए क्लीक करें तो उसे समयसारणी के साथ साथ किस किस स्टेशन पर उपरोक्त गाड़ी के कोटे दिए गए है यह समझ आ जाए। हमे लगता है, एक उपभोक्ता का यह जानने का अधिकार भी है, की उसे टिकट खरीदने के पहले क्या क्या पर्याय उपलब्ध है, जिसमे उसकी प्रतिक्षासूची वाली टिकट कन्फर्म हो सकती है। यदि वह प्रारंभिक स्टेशन से टिकट खरीदता है, जिसमे उसे gnwl जनरल वेटिंग लिस्ट टिकट मिलेगी और कन्फर्मेशन के आसार ज्यादा से ज्यादा रहेंगे तो उसे वैसे टिकट लेने का पर्याय यथायोग्य तरीकेसे दिखाई देना चाहिए। ऐसा टिकट खरीदकर बादमे वह अपने यात्रा शुरू करने का स्थान बदल सकता है ( change of boarding station ) इस सुविधा का उपयोग कर के वह रेलवे को अतिरिक्त भुगतान तो कर ही रहा है और प्रारंभिक स्टेशनसे उसके बोर्डिंग स्टेशन तक की बुकिंग दोबारा बुक किए जाने के लिए फिरसे खाली भी कर रहा है।

आशा है, रेल प्रशासन अपने ऐप / वेबसाईटोंमे सकारात्मक सुधार कर यात्रिओंको टिकट आरक्षण करने के अच्छे पर्याय उपलब्ध कराएंगे और साथ ही अपने राजस्व में अमूल्य ऐसी वृद्धि भी पाएंगे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s