Uncategorised

आज केवड़िया देश के रेल नक्शेपर आ गया, चलिए देखते है।

केवड़िया, सरदार पटेल, दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा, स्टेच्यु ऑफ यूनिटी ऐसे कई हैशटैग डालकर आपने सर्च किया होगा, लेकिन केवड़िया का सटीक रेल लोकेशन आज हम आपको दिखाते है।

Courtesy Telegram : @Bhaveen_Patel

यह केवड़िया का रेल मैप है, जिससे आपको केवड़िया को गाड़ियाँ किस तरह, कैसे जानेवाली है यह आसानी से समझ आ जाएगा। इस मैप में कोई स्केल नही है और स्टेशनोंके भी कोड डाले गए है, जिनको हम विस्तार से बताएंगे।

ST / MMTC याने सूरत / मुम्बई सेंट्रल, MYGL याने मियाँगाम कर्जन, VS विश्वामित्री और ADI याने अहमदाबाद इसका मतलब सूरत – अहमदाबाद पश्चिम रेलवे के मुख्य रेल मार्ग पर BRC – वडोदरा स्टेशन से केवड़िया के लिए गाड़ियाँ जाएगी। वडोदरा जंक्शन के पास ही VS – विश्वामित्री और PRTN – प्रतापनगर नाम के स्टेशन है। यह दोनोंही स्टेशनोंपर पहले नैरो गेज छोटी रेल लाईन की गाड़ियाँ चलती थी, जिसका अब गेज कन्वर्शन होकर ब्रॉड गेज बड़ी लाइन हो गयी है। वड़ोदरा से विश्वामित्री महज 3 किलोमीटर और प्रतापनगर 6 किलोमीटर अंतर पर है और इन स्टेशनोंके बीच काफी अच्छा सड़क सम्पर्क भी उपलब्ध है। केवड़िया के लिए 2 जोड़ी मेमू गाड़ियाँ प्रतापनगर से ही चलनेवाली है।

प्रतापनगर से आगे 27 किलोमीटर पर DB – डभोई जंक्शन है। डभोई से एक लाइन ARPR -अलीराजपुर की ओर जाती है और दूसरी CDD – चांदोद की ओर जाती है, और तीसरी छोटी लाइन MYGL – मियाँगाम कर्जन से जुड़ी है जो कि हाल ही में गेज कन्वर्शन के हेतु बन्द कर दी गयी है। डभोई से चांदोद की दूरी 20 किलोमीटर है। चांदोद से आगे केवड़िया स्टेशन बना है, यह पूर्णतयः नया निर्मित ब्रॉड गेज रेल मार्ग है। चांदोद से केवड़िया की दूरी 43 किलोमीटर की है। प्रतापनगर से केवड़िया तक यह पूरा रेल मार्ग इलेक्ट्रीफाइड याने विद्युतीकरण वाला है और कुल अंतर 90 किलोमीटर इतना है।

अब समझते है परिचालन। वाराणसी और रीवा से वडोदरा के बीच चलनेवाली दोनों साप्ताहिक महामना गाड़ियोंको केवड़िया तक विस्तारित किया गया है। इनमें दो बार लोको रिवर्सल होगा। पहली बार वडोदरा में और दूसरी बार डभोई में तब जाकर यह गाड़ियाँ केवड़िया पोहोचेंगी। यही अवस्था दादर केवड़िया और चेन्नई केवड़िया स्पेशल्स की भी रहेंगी, उन्हें भी वडोदरा और डभोई में लोको रिवर्सल करना होगा।वही अहमदाबाद केवड़िया, हजरत निजामुद्दीन केवडिया और प्रतापनगर केवडिया को केवल एक बार डभोई में लोंको रिवर्सल करना होगा।

जब मियाँगाम कर्जन से सीधी छोटी लाइन डभोई जाती है, उसका गेज कन्वर्जन हो जाएगा तो वडोदरा स्टेशन इन गाड़ियोंको लगेगा ही नही और वे सीधे ही डभोई होकर केवड़िया जाएगी। आगे डभोई में भी बाइपास रेल मार्ग के निर्माण का कार्य चल रहा है।

प्रतापनगर केवड़िया उद्धाटन मेमू
दादर केवड़िया स्पेशल

केवडिया स्टेशन के कुछ दृश्य

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s