Editorials

Edition 143 – Jan’ 18 editorial

रेल दुनिया जनवरी अंक में आपका स्वागत है.

इस बार रेलवे की और से समय सारिणी में व्यापक परिवर्तन किये गए है. नयी गाड़ियां, नया नजरिया, यात्रा के समय में कटौती और उपयक्त जवाबदेही . प्लेटफार्म पर यात्रीयो के जाने के लिए रैंप, लिफ्ट और एस्कलेटर. प्लेटफार्म पर R O का शुद्ध जल एवं वाटर वेंडिंग मशीन, हर सुविधा सही तरीके से पोहचे इसकी कामयाब कोशिश की गयी है.

अब बात करते है रिजर्वेशन की. रिजर्वेशन कन्फर्म, RAC या वेटिंग लिस्ट इस प्रकार के होते है. कन्फर्म मतलब आप को बर्थ नंबर मिल गया है. RAC याने सीट पक्की है, आरक्षित डिब्बे में यात्रा की जा सकती है और बर्थ जब भी खाली होगी आप उसके पहले हक़दार होंगे.वेटिंग लिस्ट यात्री चार्ट बनने के बाद भी वेटिंग लिस्ट में ही रह जाते हैं. वह आरक्षित डिब्बे में यात्रा नहीं कर सकते हैं. उन्हें या तो टिकट रद्द कराना हैं या फिर द्विवतीय श्रेणी में यात्रा करनी होगी.

आरक्षण करते वक्त आपने देखा होगा GNWL, RLWL , PQWL और TQWL ऐसे वेटिंग लिस्ट के प्रकार होते हैं. जिसमे GNWL वाला टिकट कन्फर्म होने के चान्सेस सर्वाधिक होते हैं. GNWL वाला टिकट अक्सर गाडी जहाँ से शुरू होती है वही से दिया जाता है। आजकल कम्प्यूटर से यात्री घर पर ही टिकट बना सकता है तो अब जब वेटिंग लिस्ट टिकट लेने की नौबत ऑ पडे तो हो सके जब तक GNWL वाला टिकट ही सर्च करें ।

 

 

Advertisements